किसान महापंचायत में गरजे भाजपा नेता, कृषि बिलों को बताया किसानों के लिए फायदेमंद

स्वामी,मुद्रक एवं प्रमुख संपादक

शिव कुमार यादव

वरिष्ठ पत्रकार एवं समाजसेवी

संपादक

भावना शर्मा

पत्रकार एवं समाजसेवी

प्रबन्धक

Birendra Kumar

बिरेन्द्र कुमार

सामाजिक कार्यकर्ता एवं आईटी प्रबंधक

Categories

June 2022
M T W T F S S
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930  
June 27, 2022

हर ख़बर पर हमारी पकड़

किसान महापंचायत में गरजे भाजपा नेता, कृषि बिलों को बताया किसानों के लिए फायदेमंद

नजफगढ़ मैट्रो न्यूज/नजफगढ़/नई दिल्ली/शिव कुमार यादव/भावना शर्मा/- नजफगढ देहात के किसानों को कृषि बिलों के फायदे बताने के लिए नजफगढ़ जिला भाजपा ने किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष रमेश गहलोत की अध्यक्षता में किसान महापंचायत का आयोजन किया। इस महापंचायत में दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता, सांसद प्रवेश साहिब सिंह वर्मा, नेता प्रतिपक्ष दिल्ली विधान सभा रामवीर विधुड़ी, किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष विनोद सहरावत, पूर्व विधायक राजेश गहलोत, नजफगढ़ जिला अध्यक्ष विजय सोलंकी ने किसानों को केद्र द्वारा लागू किये गये तीनों कृषि बिलों के बारे में विस्तार से जानकारी दी तथा इन बिलों को किसानों के लिए फायदेमंद बताया। हालांकि दिल्ली की सीमा पर किसान पिछले 20 दिन से कृषि बिलों को निरस्त करने को लेकर धरना प्रदर्शन कर रहे है लंेकिन नजफगढ़ में आज की भाजपा रैली ने यह सिद्ध कर दिया की सभी किसान इन बिलों के विरोधी नही है। इस अवसर पर दिल्ली के किसानों ने कृषि बिलों का समर्थन किया और मोदी जिंदाबाद के नारे लगाये।


इस मौके पर सांसद प्रवेश वर्मा ने कहा कि यदि ये बिल किसानों के लिए फायदेमंद नही होते तो इस्तीफा देने वालो में वह सबसे आगे होते। उन्होने कहा कि मोदी जी ने किसानों के हित को ध्यान में रखकर ये कानून बनाये है। ताकि 70 वर्षों से दबा कुचला किसान अब अपना जीवन संवार सके और विकास में सांझा कर सके। उन्होने कहा कि बिलों में ऐसा कुछ नही है जो किसानों के लिए नुकसानदायक हो। यह तो कुछ लोग अपने हित साधने के लिए किसानों को बरगला रहे है। उन्होने कहा कि विपक्ष के हाथ में अब ज्यादा कुछ बचा नही है तो अब विपक्ष किसानों के नाम पर राजनीति करना चाहता है। खासकर पंजाब मे कैप्टन अमरेन्द्र सिंह व अकाली अपनी सत्ता जाती देख अब किसानों को बरगलाने का काम कर रहे है। और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पंजाब में अपनी राजनीति चमकाने के लिए पंजाब के किसानों का समर्थन कर रहे है। साथ ही उन्होने कहा कि केंद्र सरकार हर स्तर पर किसानों से बात करने को तैयार है और किसानों की तसल्ली के लिए सब लिखकर देने को भी तैयार लेकिन कुछ लोगों के फायदे के लिए सभी किसानों की बलि चढ़ाने को तैयार नही है। किसान भाईयों को समझना चाहिए और सरकार के साथ बैठकर बात करनी चाहिए ताकि एक सर्वमान्य हल निकल सके और किसान अपने घरों को जा सके। वही विधायक रामवीर विघुड़ी ने केजरीवाल सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि केजरीवाल किसानों के हितैषी तो बन रहे है लेकिन दिल्ली में किसानों के साथ क्या हो रहा है सभी जानते है। आज जो भी सुविधायें दिल्ली में किसानों को मिल रही है वह स्वर्गीय साहिब सिंह वर्मा की देन है। उन्होने कहा कि देहात में वर्मा जी ने ग्रामीण बच्चों की उच्च शिक्षा के लिए बवाना व कैर में दो कालेज बनवाये, हर गांव को सामुदायिक भवन व डिस्पैसरी की सुविधाये प्रदान की। केजरीवाल ने सिवाये किसानों को उजाड़ने के किया क्या है। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि देश में कुछ चंद लोग व नेता किसानों को बरगलाने का काम कर रहे है। जो मोदी जी के द्वारा गरीब किसान के हित में लाये गये बिलों से घबरा गये है। और अपना साम्राज्य उजड़ता देख रहे है। उन्होने कहा कि किसानों की एमएसपी व मंडी व्यवस्था पर कोई आंच नही आयेगी और ना ही कोई किसी की जमीन हड़प रहा है। ये बिल किसानों आर्थिक स्थिति बदलने के लिए है और इनसे किसान विकास की मुख्यधारा में रह पायेंगे। आज जमाना तेजी से बदल रहा है। सभी देशों में सामुहिक खेती को बढ़ावा दिया जा रहा है लेकिन चंद लोग नही चाहते की किसानों का भला हो। 70 साल के इतिहास में अगर पुराने कानून इतने सार्थक होते तो किसान आज तक आत्म्हत्या नही करता। लेकिन मै दावे के साथ कहता हूु कि अब किसानों की आर्थिक दशा बदलेगी और किसान समृद्ध होंगे। इस मौके पर हजारों के संख्या में नजफगढ़ देहात से आये किसानों ने मोदी जिंदाबाद के नारे लगाये। इस अवसर पर भाजपा पार्षद सत्यपाल मलिक, अंतिम गहलोत, मीना तरूण यादव व भाजपा युवा नेता संदीप शौकीन, कृष्ण यादव, सुरेन्द्र मटियाला, अंचल शर्मा, नेहा दुआ, जगबीर सिंह दिचाउं, बांके पहलवान व अनिल डागर भी उपस्थित रहे और किसानों के साथ कृषि बिलों को लेकर चर्चा की।

Subscribe to get news in your inbox