नजफगढ़ एसडीएम कार्यालय के दो कर्मियों के घरों समेत गोपालनगर एन ब्लाॅक के 22 घर क्वारंटाइन

स्वामी,मुद्रक एवं प्रमुख संपादक

शिव कुमार यादव

वरिष्ठ पत्रकार एवं समाजसेवी

संपादक

भावना शर्मा

पत्रकार एवं समाजसेवी

प्रबन्धक

Birendra Kumar

बिरेन्द्र कुमार

सामाजिक कार्यकर्ता एवं आईटी प्रबंधक

Categories

October 2022
M T W T F S S
 12
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
31  
October 1, 2022

हर ख़बर पर हमारी पकड़

नजफगढ़ एसडीएम कार्यालय के दो कर्मियों के घरों समेत गोपालनगर एन ब्लाॅक के 22 घर क्वारंटाइन

नजफगढ़ मैट्रो न्यूज/नई दिल्ली/शिव कुमार यादव/भावना शर्मा/- नजफगढ़ स्थित गोपाल नगर के एन ब्लॉक की एक गली के सभी मकानों को प्रशासन ने एक साथ क्वारंटाइन कर दिया है। बताया जा रहा है कि इसमें नजफगढ़ एसडीएम कार्यालय में तैनात ड्राइवर असलम खान और तहसील के इलेक्ट्राल कार्यालय में तैनात कर्मी फिरोज खान का भी घर शामिल है। असलम खान व फिरोज खान दोनो भाई बताये जा रहे है। दरअसल असलम खान एसडीएम के ड्राइवर से पहले नजफगढ़ के तहसीलदार की गाड़ी चलाता था। शुरूआत में नजफगढ़ एसडीएम कार्यालय के ड्राइवर और उसके भाई के घर को क्वारंटाइन किया गया था। इसके अगले दिन प्रशासन ने बड़ा कदम उठाते हुए एक गली के शेष 21 मकानों को भी क्वारंटाइन कर दिया। ऐहतियातन घरों के बाहर कोरेनटाईन का नोटिस भी चिपका दिया गया है और सभी को यह हिदायत दी गई है इन घरों से अब 15 दिन तक कोई भी व्यक्ति बाहर या अंदर नही जा सकेगा। वहीं यह भी चर्चा जोरो पर है कि नजफगढ़ कार्यालय में भी कोरोना का संक्रमण हो सकता है। जिसके लिए प्रशासन को कोई फैसला लेना चाहिए।
दरअसल नजफगढ़ एसडीएम को यह कदम उस समय उठाना पड़ा जब कालोनी के लोगों ने एक विक्षिप्त व्यक्ति को गलियों में संदिग्ध अवस्था में घुमते देखा और प्रशासन से उसकी शिकायत की। चूंकि वह व्यक्ति असलम के संपर्क में था तो प्रशासन सतर्क हो गया और उसकी जांच की गई तो पता चला की वह संदिग्ध भी एक मुस्लिम है। यहां बता दें कि असलम खान के पिता जमातियो के संपर्क में थे और उसमें कोरोना पॉजीटीव के लक्षण पाए गए थे। ऐसे में प्रशासन ने बेहिचक असलम खान के साथ उसके भाई फिरोज खान के मकान को तुरंत क्वारंटाइन कर दिया। चूंकि, यह विक्षप्त व्यक्ति यहां की गलियों में घूमता रहता था ऐसे में संभावित खतरें के मद्देनजर प्रशासन ने गली के सभी मकानों को क्वारंटाइन करने का फैसला लेना पड़ा। गोपाल नगर निवासी मनजीत सिंह व एन ब्लाॅक निवासी अनिल कालीरमन ने बताया कि असलम खान नजफगढ़ एसडीएम का ड्राइवर है और उसके घर को प्रशासन ने नौ अप्रैल को क्वारंटइन किया था। इसके अगले दिन 10 अप्रैल को रात को 12 बजे उनके साथ गली के शेष 21 घरों को क्वारंटाइन कर दिया गया। लोगों का दावा है कि प्रशासन ने यह कदम असलम खान के कहने पर उठाया है। इनका कहना है कि तीन दिन पहले गली से जिस विक्षिप्त व्यक्ति को पकड़ कर क्वारंटाइन सेंटर ले जाया गया है उसके बारे में भी अभी तक कोई अता पता नहीं है। यह भी नही पता चल पाया है कि वह विक्षिप्त पाॅजीटिव है या नही। इस संबंध में नजफगढ़ मैट्रो न्यूज से बातचीत में नजफगढ़ एसडीएम सौम्या शर्मा ने भी माना कि असलम खाना एसडीएम कार्यालय का कर्मचारी जरूर है लेकिन उनका ड्राइवर नहीं है। सौम्या शर्मा ने यह भी कहा कि गोपाल नगर एन ब्लॉक के घरों को ऐहतियातन शंका के आधार पर क्वारंटाइन किया गया है। दस दिन बाद रिपोर्ट दुरुस्त आई तो घरों को क्वारंटाइन से हटा दिया जाएगा। उन्होने लोगों से शांति बनाये रखने के साथ-साथ अपने घरों में ही रहने की अपील की और कालोनी वासियों को इसके लिए इंतजार करने को भी कहा है। वहीं एसडीएम कार्यालय में भी कोरोना के संक्रमण होने की बात पर एसडीएम ने कहा कि सभी स्थितियों पर नजर रखी जा रही है। यह असलम खान व फिरोज खान के टेस्ट पर निर्भर करता है। लेकिन प्रशासन ने आगे के ऐहतियातन कदम उठाने आरंभ कर दिये हैं।

Subscribe to get news in your inbox