’दो दिन बढ़ा इस्राइल-हमास संघर्ष विराम’, कतर का बड़ा दावा

स्वामी,मुद्रक एवं प्रमुख संपादक

शिव कुमार यादव

वरिष्ठ पत्रकार एवं समाजसेवी

संपादक

भावना शर्मा

पत्रकार एवं समाजसेवी

प्रबन्धक

Birendra Kumar

बिरेन्द्र कुमार

सामाजिक कार्यकर्ता एवं आईटी प्रबंधक

Categories

July 2024
M T W T F S S
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293031  
July 22, 2024

हर ख़बर पर हमारी पकड़

’दो दिन बढ़ा इस्राइल-हमास संघर्ष विराम’, कतर का बड़ा दावा

-पहले चार दिन के संघर्ष विराम का हुआ था समझौता, इजराइल से नही मिली है कोई प्रतिक्रिया - हर दिन 10 इजराइली बंधक छोड़ेगा हमास, युद्ध में अब तक 15 हजार से अधिक मौतें

तेल अवीव/शिव कुमार यादव/- हमास और इस्राइल के बीच डेढ़ महीने से भी ज्यादा समय से जारी युद्ध को लेकर आखिरकार दोनों पक्षों में पहले चार दिन का युद्धविराम हुआ जिसकी अवधि आज बुधवार को सुबह खत्म हो गई लेकिन इसी के साथ कतर ने बड़ा दावा करते हुए कहा कि हमास और इजराइल के बीच और दो दिन के युद्ध विराम पर सहमति बन गई है। लेकिन अभी तक इजराइल ने इसकी पुष्टि नही की है। कतर सरकार ने बताया कि इस्राइल ने कहा है कि वह प्रत्येक 10 अतिरिक्त बंधकों की रिहाई के लिए संघर्ष-विराम को एक दिन बढ़ा देगा। कतर की घोषणा के बाद, हमास ने पुष्टि की कि वह समान शर्तों के तहत दो दिन के विस्तार पर सहमत हो गया है। गौरतलब है कि कतर, अमेरिका और मिस्र के साथ, इस्राइल और हमास के बीच चल रहे संघर्ष में प्रमुख मध्यस्थ रहा है।

कतर के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता माजिद अल अंसारी की ओर से सोशल मीडिया पोस्ट पर यह घोषणा की गई है। बता दें कि पूर्व में हुए समझौते के मुताबिक, बंधकों की चौथे जत्थे की अदला-बदली आज यानी सोमवार (27 नवंबर) को होने की उम्मीद थी। दोनों के बीच जारी चार दिवसीय संघर्ष विराम का आज आखिरी दिन था। संघर्ष विराम के आखिरी दिन देर शाम दोहा के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने दावा किया कि कतर ने इस्राइल और हमास के बीच चार दिवसीय संघर्ष विराम को दो दिनों तक बढ़ाने पर समझौता हो चुका है। कतर का दावा है कि दोनों पक्षों के बीच सफलतापूर्वक बातचीत हो चुकी है।

20 बंधकों की रिहाई; 30 फलस्तीनी कैदी भी छोड़े जाएंगे
द टाइम्स ऑफ इस्राइल की रिपोर्ट के मुताबिक कतर की घोषणा का मतलब है कि कम से कम दस और इस्राइली बंधकों को मंगलवार (पश्चिम एशिया के स्थानीय समय के मुताबिक) रिहा किया जाएगा। अन्य दस बंधकों को बुधवार को रिहा किया जाएगा। इसी के साथ हर दिन इस्राइल 30 फलिस्तीनी कैदियों को भी रिहा करेगा।

गाजा पट्टी पर संघर्ष विराम; इस्राइल की पुष्टि नहीं
सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म- एक्स पर कतर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता माजिद अल अंसारी ने पोस्ट किया, कतर ने घोषणा की है कि इस्राइल और हमास के बीच जारी मध्यस्थता के हिस्से के रूप में, गाजा पट्टी में मानवीय संघर्ष विराम को अतिरिक्त दो दिनों के लिए बढ़ाने पर एक समझौता हुआ है। टाइम्स ऑफ इस्राइल की खबर के मुताबिक संघर्ष विराम विस्तार की इस्रायली पक्ष से आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। हालांकि, हमास ने कतर और मिस्र के मध्यस्थता के प्रयासों को श्रेय देते हुए अपना बयान जारी कर दिया है।

शुरुआती गतिरोध के बाद अब इस्राइल और हमास के बीच समझौता पटरी पर लौटता दिख रहा है। खबरों के अनुसार, इस्राइली प्रधानमंत्री कार्यालय ने बताया है कि इस्राइली अधिकारी बंधकों के परिजनों के संपर्क में हैं। परिवार के लोगों को रिहा किए जा रहे लोगों के बारे में सूचना दी जा रही है। इस्राइली अधिकारी के हवाले से छपी टाइम्स ऑफ इस्राइल की रिपोर्ट के अनुसार, सोमवार को छोड़े गए बंधकों में हमास ने मां और उनके बच्चों को अलग करने की कोशिश की। हालांकि, इस्राइल ऐसे मंसूबों को रोकने में सफल रहा। हिब्रू मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक हमास 11 इस्राइली बंधकों को जल्द छोड़ेगा। इनमें नौ बच्चे और दो महिलाएं शामिल हैं। हालांकि, छोड़े जा रहे बंधकों की संख्या की आधिकारिक पुष्टि इस्राइल की तरफ से नहीं हो सकी है। हिब्रू मीडिया के अनुसार, रिहा किए जा रहे बंधक किबुत्ज़ निर ओज़ से हैं। हमास के आतंकी हमले में यह इलाका सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ था।
         सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, संघर्ष विराम के चौथे दिन हमास 40 इस्रायली बंधकों को रिहा कर चुका था। इनमें से 13 शुक्रवार को, 13 को शनिवार को और 14 बंधकों को रविवार को रिहा किया गया।

बंधन से आजाद किए गए लोगों में 18 या उससे कम उम्र के 21 बच्चे भी शामिल हैं। 11 वयस्क महिलाएं, 65 या उससे अधिक उम्र की सात महिलाएं भी हमास के कब्जे में थीं। चार दिवसीय युद्धविराम समझौते से इतर भी हमास ने विशेष हालात में एक इस्राइली-रूसी शख्स रोनी क्रिवॉय को भी बंधन मुक्त किया है। इसके अलावा थाईलैंड के 17 नागरिकों और फिलीपींस के एक नागरिक सहित 18 विदेशी नागरिकों को भी गाजा से मुक्त कर दिया गया। अलग-अलग बातचीत के आधार पर इन्हें छोड़ा गया है। इन लोगों को इस्राइल-हमास युद्धविराम समझौते के तहत नहीं छोड़ा गया है।
        हमास की तरफ से बंधकों की मुक्ति के बदले इस्राइली जेलों से 117 महिलाओं और बच्चों को रिहा किया गया। इनमें से शुक्रवार को 39, शनिवार को 39 और रविवार को 39 लोगों को छोड़ा गया। रिहा लोगों में 28 वयस्क महिलाएं, दो किशोर लड़कियां और 18 वर्ष और उससे कम उम्र के 87 किशोर शामिल हैं।
         रिहा किए गए फलस्तीनी कैदियों में से 41 पर मुकदमा चलाकर इस्राइली कानून के मुताबिक सजा भी सुनाई गई। इस्राइली जेल में बंद 76 लोग प्रशासनिक हिरासत में थे। सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, बीते 52 दिनों से जारी हिंसक संघर्ष के कारण पश्चिम एशिया की स्थिति अस्थिर बनी हुई है। अमेरिका घटनाक्रम पर करीबी नजर रख रहा है।

अब तक 15 हजार से अधिक लोगों की मौत
बता दें कि इस्राइल और हमास का हिंसक संघर्ष बीते सात अक्तूबर को शुरू हुआ था। इस लड़ाई में अब तक 15 हजार से अधिक लोग मारे जा चुके हैं। हमास के आतंकी हमलों के जवाब में इस्राइली डिफेंस फोर्स गाजा के आतंकी ठिकानों पर लगातार हमले कर रही है। हमास के कब्जे वाले गाजा में स्वास्थ्य मंत्रालय का दावा है कि अब तक 12 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। दूसरी तरफ इस्राइली पक्ष में 1200 लोगों की मौत हुई है।

About Post Author

Subscribe to get news in your inbox