किसान आंदोलन पर बोले अखिलेश, किसान नही डरने वाले

स्वामी,मुद्रक एवं प्रमुख संपादक

शिव कुमार यादव

वरिष्ठ पत्रकार एवं समाजसेवी

संपादक

भावना शर्मा

पत्रकार एवं समाजसेवी

प्रबन्धक

Birendra Kumar

बिरेन्द्र कुमार

सामाजिक कार्यकर्ता एवं आईटी प्रबंधक

Categories

June 2022
M T W T F S S
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930  
June 26, 2022

हर ख़बर पर हमारी पकड़

किसान आंदोलन पर बोले अखिलेश, किसान नही डरने वाले

नजफगढ़ मैट्रो न्यूज/लखनऊ/नई दिल्ली/शिव कुमार यादव/भावना शर्मा/- समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज संतकबीरनगर में हुई वर्चुअल रैली को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा किसानों को डराना चाहती है। पर किसान डरने वाला नहीं है। तीन कृषि कानूनों के विरूद्ध किसानों का देश व्यापी आंदोलन जारी है। उनके साथ अन्याय हो रहा है। समाजवादी पार्टी भी उनके संघर्ष में साथ है। भाजपा जो कानून लाई है वह किसान विरोधी है और उससे कुछ पूंजीपतियों को ही लाभ मिलेगा। इस सरकार से किसान, नौजवान, व्यापारी, दलित, पिछड़े, अल्पसंख्यक सभी परेशान है। भाजपा सरकार अब अंतिम सांसे ले रही है। जनता का सहयोग समाजवादी पार्टी के साथ है। 2022 में समाजवादी पार्टी की ऐतिहासिक जीत होगी।
श्री यादव ने रात में रैली के संयोजक श्री सुनील सिंह की गिरफ्तारी को अवैध और निंदनीय बताते हुए कहा कि भाजपा सत्ता का दुरूपयोग करने से बाज आए। भाजपा का लोकतंत्र पर भरोसा नहीं है। हिरासत में मौतों और फर्जी एनकाउण्टरों पर मानवाधिकार आयोग राज्य सरकार को कई नोटिसें जारी कर चुका है। महिलाओं के साथ दुष्कर्म की बढ़ती घटनाओं से पूरे देश में बदनामी हो रही है। नौजवानों को नौकरी मिली नहीं। 4 लाख करोड़ का निवेश कहा हुआ, पता नहीं। गोरखपुर में एम्स आयुर्विज्ञान संस्थान अभी तक बन नहीं पाया।
अखिलेश यादव ने कहा कि किसानों के साथ भाजपा ने बड़ा धोखा किया है। एमएसपी मिली नहीं। आय दुगनी हुई नहीं। धान की कीमत 1100 रूपये से ज्यादा नहीं मिली। क्रय केन्द्रों में खरीद नहीं हो रही है। लागत का ड्योढ़ा दाम भी नहीं मिला। किसान को मंहगी खाद, डीजल, कृषि उपकरण खरीदने पड़ रहे हैं। धान की लूट हुई है। गन्ना किसानों को 4 वर्ष में भी बकाया राशि नहीं मिली। बिजली मंहगी है। भाजपा सरकार ने अपने शासन काल में एक यूनिट विद्युत उत्पादन नहीं किया। रोजगार नहीं है। कारखाने बंद हैं। विकास कार्य धुआं हो गए हैं। मुख्यमंत्री जी का किसानों से कोई मतलब नहीं है। भाजपा धोखे से सत्ता में आई है। श्री यादव ने कहा कि भाजपा सरकार जाति के आधार पर निर्णय लेती है। झूठे मुकदमें लगाती है। बदले की भावना से उत्पीड़न करती है। समाजवादी नेताओं को जेल में रखकर द्वेषवश पीड़ित किया जाता है। उन्होंने कहा कि समाजवादियों का सीधा सम्बंध खेती से है। समाजवादी झुकने या डरने वाले नहीं है। समाजवादी पार्टी अन्याय के विरूद्ध संघर्षरत है।
किसान नेता अम्बिका राय ने कहा कि सन्2022 में समाजवादी पार्टी की सरकार बनेगी। श्री अखिलेश यादव पर कोई लांछन नहीं, उनकी छवि बेदाग नेता की है। इस बार कोई भी ताकत अखिलेश जी को मुख्यमंत्री बनने से नहीं रोक सकेगी। अन्य लोगों ने कहा कि भाजपा किसान की जमीन छीनने की साजिश कर रही है। जनता का भरोसा समाजवादी पार्टी और अखिलेश जी पर है।
वर्चुअल रैली कार्यक्रम में लखनऊ से श्री अखिलेश यादव के साथ नेता विपक्ष विधानसभा रामगोविन्द चैधरी, नेता विपक्ष विधान परिषद अहमद हसन तथा राष्ट्रीय सचिव राजेन्द्र चैधरी शामिल हुए। आज अखिलेश यादव वर्चुअल रैली में बस्ती, सिद्धार्थनगर, संतकबीरनगर और गोरखपुर के भी कई नेता जुड़े। इस संवाद में रामप्रसाद चैधरी, जफर अमीन डक्कू, संतोष यादव सनी, रामकुमार चिंकू, रामललित चैधरी, पप्पू निषाद एवं अब्दुल कलाम पूर्व विधायक, सुरेन्द्र यादव, अवधेश यादव, जयराम पाण्डेय, ओम प्रकाश यादव, राधे सिंह सेतवार, नगीना साहनी, इनामुल्ला खां एडवोकेट, मनोज यादव, महेन्द्र यादव, विजय बहादुर, सद्दाम हुसैन, नावेद नवी, अरशद हुसैन, अमरेन्द्र निषाद आदि शामिल रहे। गौहर खान जिलाध्यक्ष संतकबीरनगर ने कार्यक्रम का संचालन किया।

Subscribe to get news in your inbox