राहत- देश में कोरोना पीड़ितों के स्वस्थ होने की दर में इजाफा राहत- देश में कोरोना पीड़ितों के स्वस्थ होने की दर में इजाफा

स्वामी,मुद्रक एवं प्रमुख संपादक

शिव कुमार यादव

वरिष्ठ पत्रकार एवं समाजसेवी

संपादक

भावना शर्मा

पत्रकार एवं समाजसेवी

प्रबन्धक

Birendra Kumar

बिरेन्द्र कुमार

सामाजिक कार्यकर्ता एवं आईटी प्रबंधक

Categories

December 2022
M T W T F S S
 1234
567891011
12131415161718
19202122232425
262728293031  
December 1, 2022

हर ख़बर पर हमारी पकड़

राहत- देश में कोरोना पीड़ितों के स्वस्थ होने की दर में इजाफा राहत- देश में कोरोना पीड़ितों के स्वस्थ होने की दर में इजाफा

नजफगढ़ मैट्रो न्यूज/द्वारका/नई दिल्ली/शिव कुमार यादव/भावना शर्मा/- देश में अब तेजी से कोरोना वायरस का कहर बढ़ने लगा है जिसके चलते रविवार को देश में कोरोना से पीडित संक्रमितों की संख्या 63 हजार के पार पंहुच गई। हालांकि देश में कोरोना अब तेजी से फैल रहा है लेकिन इसी बीच एक राहत की खबर यह भी है कि इस बिमारी से पीड़ित मरीजों के स्वस्थ होने की दर में भी इजाफा हुआ है और वह 31 फीसदी के पार पंहुच गई है जबकि दो दिन पहले यह 29 प्रतिशत के करीब थी। सोमवार को यह 27.45 प्रतिशत थी। पिछले एक सप्ताह में रिकवरी दर में करीब चार फीसदी की वृद्धि दर्ज की गयी है। यह दर वैश्विक महामारी से जूझ रहे विश्व के कई देशों की तुलना में काफी बेहतर है। हालांकि पिछले 24 घंटे में देश में विभिन्न हिस्सांे से कोरोना के 3277 नये मामले सामने आये है। इस दौरान 128 लोगों की मौत से मृतकों की संख्या 2100 के पार हो गयी। फिर भी राहत की एक और बात यह है कि पिछले दो दिनों से संक्रमितों की मृत्यु दर 3.3 फीसदी पर ही बनी हुई है।
                                               केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से रविवार सुबह जारी आंकड़ों के मुताबिक देश के विभिन्न राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों में अब तक 62939 लोग कोरोना वायरस से प्रभावित हुए हैं तथा 2109 लोगों की मौत हुई है। अब तक 19538 संक्रमित स्वस्थ भी हुए हैं जिन्हें विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है। इस बीच, केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने गुजरात, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान, मध्य प्रदेश, पंजाब, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना राज्यों में केंद्रीय टीमों को तैनात करने का निर्णय लिया जहां कोरोना वायरस के अधिक मामले मामले देखे गये हैं। ये टीमें कोविड-19 के प्रकोप से निपटने में संबंधित राज्यों के स्वास्थ्य विभागों की सहायता करेंगी। ईन टीमों में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी, एक संयुक्त सचिव स्तर के नोडल अधिकारी और एक सार्वजनिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ शामिल हैं। यह टीम संबंधित राज्यों के जिलों व शहरों के भीतर प्रभावित क्षेत्रों में रोकथाम के उपायों के क्रियान्वयन में राज्य के स्वास्थ्य विभाग की मदद करेगी। ये टीमें सार्वजनिक स्वास्थ्य विशेषज्ञों की उन 20 केंद्रीय टीमों के अतिरिक्त हैं, जो अधिक मामलों वाले जिलों में पहले भेजी गईं थी। हाल में एक उच्च स्तरीय टीम मुंबई में तैनात की गयी थी ताकि कोविड-19 से निपटने के लिए तैयारी और प्रबंधन में राज्य के प्रयासों में मदद की जा सके।

About Post Author

Subscribe to get news in your inbox