गाजा में शुरू हुआ सीजफायर, समझौते के तहत बंधकों की होगी रिहाई

स्वामी,मुद्रक एवं प्रमुख संपादक

शिव कुमार यादव

वरिष्ठ पत्रकार एवं समाजसेवी

संपादक

भावना शर्मा

पत्रकार एवं समाजसेवी

प्रबन्धक

Birendra Kumar

बिरेन्द्र कुमार

सामाजिक कार्यकर्ता एवं आईटी प्रबंधक

Categories

July 2024
M T W T F S S
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293031  
July 21, 2024

हर ख़बर पर हमारी पकड़

गाजा में शुरू हुआ सीजफायर, समझौते के तहत बंधकों की होगी रिहाई

-गाजा में अब तक 14800 की मौत, रात भर गाजा पर जारी रहे आईडीएफ के अटैक

दोहा/यरूशलम/शिव कुमार यादव/- शुक्रवार सुबह सात बजे से गाजा में समझौते के तहत सीजफायर शुरू हो गया। अब उम्मीद जताई जा रही है कि समझौते की अगली शर्त के अनुसार बंधकों की भी रिहाई हो जायेगी। हालांकि 7 अक्तुबर के बाद से इजराइली सेना लगातार गाजा में हवाई हमले व जमीनी ऑपरेशन चला रही है

जिसके चलते गाजा में अब तक 14853 लोग मारे गये हैं। गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि इस्राइल के हमले में  5850 बच्चों की भी मौत हुई है। इजराइल व हमास के बीच चार दिनों तक यह युद्धविराम  रहेगा। पहले दिन 13 इस्राइली बंधकों को रिहा किया जाएगा।

पिता ने लगाई बेटी की रिहाई की गुहार
एक पिता ने अपनी 9 साल की बच्ची की रिहाई की गुहार लगाई है। बता दें कि एमिली हैंड को बीती 7 अक्तूबर को हमास के आतंकियों ने बंधक बना लिया था। पहले माना जा रहा था कि एमिली की मौत हो चुकी है लेकिन अब पता चला है कि एमिली हमास की कैद में है और माना जा रहा है कि आज इस्राइल और हमास के बीच हुए समझौते के तहत रिहा किए जा रहे लोगों में एमिली भी हो सकती है। समझौते के तहत बंधकों की रिहाई पर खुशी जताते हुए एमिली के 63 वर्षीय पिता थॉमस हैंड ने कहा कि ’यह सभी के लिए अच्छी बात है। इससे मुझे उम्मीद बंधी है लेकिन जब तक मैं खुद उसे देख नहीं लेता या उसे छू नहीं लेता तब तक मुझे किसी पर विश्वास नहीं है।’

बता दें कि इस्राइल-हमास के बीच हुए समझौते के तहत 13 बंधकों को शुक्रवार शाम चार बजे (स्थानीय समय) गाजा से रिहा किया जाएगा। कतर के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता माजिद अल अंसारी ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जिन बंधकों को रिहा किया जाएगा, उनके नामों की सूची इस्राइली खुफिया एजेंसियों को दे दी गई है। अंसारी के अनुसार, गाजा में मानवीय आधार पर चार दिन का संघर्षविराम शुक्रवार सुबह सात बजे (स्थानीय समय) शुरू होगा। बयान में कहा गया है कि गाजा में संघर्षविराम की कार्यान्वयन योजना पर चर्चा के लिए व्यापक बैठकें हुईं। कतर के विदेश मंत्रालय ने एक्स पर एक पोस्ट में कहा कि कतर और मिस्र के मध्यस्थों और दोनों पक्षों की भागीदारी के साथ युद्धविराम की योजना पर चर्चा करने के लिए दोहा में व्यापक बैठकें हुईं। गाजा में संघर्षविराम शुक्रवार, 24 नवंबर को सुबह सात बजे शुरू होगा।

इस्राइल ने की बंधकों की सूची मिलने की पुष्टि
कतर की मध्यस्थता से इस्राइल और हमास के बीच संघर्षविराम की पुष्टि होने के बाद गुरुवार को इस्राइली प्रधानमंत्री के कार्यालय ने रिहा किए जाने वाले बंधकों की पहली सूची प्राप्त होने की पुष्टि की। कार्यालय ने कहा कि इस्राइल को गाजा से रिहा किए जाने वाले बंधकों की प्रारंभिक सूची मिल गई है, जिसे शुक्रवार को हमास के साथ संघर्षविराम लागू होने के बाद जारी किया जाएगा। बयान में कहा गया कि संबंधित अधिकारी सूची के विवरण की जांच कर रहे हैं और सभी पीड़ित परिवारों के साथ संपर्क में बने हुए हैं।

इससे पहले घोषणा की गई थी कि संघर्षविराम समझौते के तहत हमास गुरुवार को 50 इस्राइली बंधकों को रिहा करेगा। बाद में इस्राइल के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार तजाची हानेग्बी ने एक बयान में कहा कि बंधकों की रिहाई पर चर्चा लगातार जारी है और समझौता लागू होने में शुक्रवार तक की देरी हुई। बताया गया कि हमास द्वारा बंधक बनाए गए लोगों के बदले इस्राइली जेलों में बंद फलस्तीनी नागरिकों की रिहाई का समझौता अंतिम वक्त में लागू नहीं हो सका। इसके चलते युद्धविराम में एक दिन की देरी हुई। इस्राइली सेना के आंकड़ों के अनुसार, हमास ने गाजा में 239 लोगों को बंधक बना रखा है, जिनमें 26 देशों के विदेशी नागरिक भी शामिल हैं।

गाजा पहुंचा 1,30,000 लीटर ईंधन और राहत सामग्री के 200 ट्रक
इस्राइल और हमास के बीच हुए युद्धविराम के समझौते के बाद गाजा पट्टी में मानवीय मदद पहुंचने में भी तेजी आई है। मिस्त्र ने एलान किया है कि मानवीय मदद लेकर रोजाना 200 ट्रक गाजा पहुंच रहे हैं। साथ ही कुल 1,30,000 लीटर डीजल और गैस से भरे चार  टैंकर भी गाजा में भेजे गए हैं।  

इस्राइली सेना ने हमास कमांडर को किया ढेर
संघर्षविराम से एक दिन पहले इस्राइली सेना उत्तरी गाजा में भारी बमबारी की। इस्राइली सेना ने एक दिन में 300 हवाई हमलों का दावा किया। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, संयुक्त राष्ट्र के स्कूल पर इस्राइली बमबारी में 27 लोग मारे गए हैं।

वहीं, इस्राइली सेना ने हमास कमांडर अमर अबू जलाला को मारने का दावा किया है। इस्राइल का कहना है कि जलाला खान यूनिस में हमास के नौसैनिक बल का कमांडर था। बयान में कहा गया कि हवाई हमले में अबू जलाला और हमास का एक अन्य लड़ाका मारा गया।

शिफा अस्पताल के नीचे हमास के बड़े ठिकाने का खुलासा
इस्राइली सेना ने गाजा के सबसे बड़े शिफा अस्पताल के नीचे हमास का सैन्य केंद्र होने के अपने दावे के लिए विदेशी पत्रकारों के एक समूह को एक भूमिगत ठिकाने के बंकर दिखाए। यहां पत्थर की संकीर्ण सुरंग के जरिये भूमिगत बंकरों में ले जाया गया।

सुरंग की लंबाई 150 मीटर है। सुरंग के अंत में स्थित कई क्वार्टर में एयर कंडीशनर, रसोईघर, शौचालय और सफेद टाइल से बने कमरे में धातु की चारपाई दिखी। सेना ने दावा किया कि शिफा अस्पताल की आड़ में हमास ने कमान केंद्र बना रखे हैं और अस्पताल के नीचे कई बंकर हैं। हमास और अस्पताल के प्रशासन ने इस्राइली दावों को खारिज किया, इस्राइल की सेना के मुख्य प्रवक्ता डैनियल हैगारी ने कहा, शिफा अस्पताल में हमास का सबसे बड़ा आतंकी केंद्र है।

जो बाइडन ने की पश्चिम एशियाई नेताओं से फोन पर वार्ता
अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने बंधकों की रिहाई पर इस्राइल-हमास समझौते के बाद पश्चिम एशिया में ताजा हालात पर चर्चा के लिए इस्राइली पीएम बेंजामिन नेतन्याहू, कतर के अमीर शेख तमीम बिन हमद अल-थानी और मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सीसी से फोन पर बात की।

नेताओं ने युद्धविराम पर चर्चा की, ताकि गाजा में जरूरी मानवीय सहायता पहुंच सके। वह सहमत हुए कि काम अभी पूरा नहीं हुआ है और बाइडन ने नेतन्याहू को आश्वस्त किया कि वह बचे हुए सभी बंधकों की रिहाई सुनिश्चित करने की दिशा में काम जारी रखेंगे।

गाजा में 13,000 से अधिक लोग मारे गए
हमास शासित गाजा में स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि उसने इ्स्राइल-हमास की जंग में मारे गए फलस्तीनियों की विस्तृत जानकारी के साथ गणना करना फिर शुरू कर दिया है और मृत्यु के 13,000 से अधिक मामले दर्ज किए हैं।

मंत्रालय ने उत्तर गाजा में आवागमन व संचार बंद होने के बाद 11 नवंबर को आंकड़े जारी करना बंद कर दिया था। ताजा आंकड़े दक्षिण व उत्तर के अस्पतालों के 11 नवंबर के आंकड़ों पर आधारित हैं। वास्तविक मृतक संख्या इससे अधिक हो सकती है। यहां 6,000 अन्य लोग लापता हैं और उनके मलबे में दबे होने की आशंका है।

About Post Author

Subscribe to get news in your inbox