कठुआ मुठभेड़ में दूसरा आतंकी भी ढेर, सीआरपीएफ का एक जवान शहीद

स्वामी,मुद्रक एवं प्रमुख संपादक

शिव कुमार यादव

वरिष्ठ पत्रकार एवं समाजसेवी

संपादक

भावना शर्मा

पत्रकार एवं समाजसेवी

प्रबन्धक

Birendra Kumar

बिरेन्द्र कुमार

सामाजिक कार्यकर्ता एवं आईटी प्रबंधक

Categories

July 2024
M T W T F S S
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293031  
July 16, 2024

हर ख़बर पर हमारी पकड़

कठुआ मुठभेड़ में दूसरा आतंकी भी ढेर, सीआरपीएफ का एक जवान शहीद

-हथियार और एक लाख नकदी बरामद

हीरानगर/कठुआ/शिव कुमार यादव/- जम्मू संभाग के जिला कठुआ की तहसील हीरानगर के गांव सैडा सोहल में बुधवार दूसरे दिन भी सुरक्षाबलों की आतंकियों से मुठभेड़ जारी रही। दूसरे दिन सुरक्षाबलों ने कठुआ आतंकी हमले के दूसरे आरोपी को भी ढेर कर दिया। इस मुठभेड़ में अब तक दो आतंकवादी मारे गए जबकि एक सीआरपीएफ का जवान मुठभेड़ में शहीद हो गया है। पुलिस, एसओजी, सीआरपीएफ, सेना के जवानों ने मोर्चा संभाला हुआ है। तलाशी अभियान चल रहा है। एडीजीपी जम्मू आनंद जैन ने यह जानकारी दी है।

          एडजीपी ने कहा कि हीरानगर में हुई मुठभेड़ में बहादुर जवानों ने दोनों आतंकी मार गिराए हैं। हालांकि ऑपरेशन अभी चल रहा है। इलाके में किसी अन्य आतंकी के छिपे होने की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता है। ऐसे में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। आसपास के इलाके में भी तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।
          बताया जा रहा है कि ड्रोन से भी घटनास्थल पर नजर रखी जा रही थी। इसी दौरान आतंकी की मौजदूगी का पता चला। इसके बाद शुरू हुई गोलीबारी में आतंकवादी को मार गिराया गया। सुरक्षाकर्मी धीरे-धीरे घेरा और छोटा करते गए। खुद को घिरता हुए देख आतंकी ने सुबह दस बजे के करीब फिर गोलीबारी की। इसके जवाब में मुठभेड़ शुरू हुई। इस मुठभेड़ में दो आतंकी मारे गए हैं।  

मारे गए आतंकी से भारी मात्रा में हथियार और एक लाख की नकदी बरामद
सुरक्षा बलों ने चल रही मुठभेड़ स्थल के आसपास हथियार और गोला-बारूद बरामद किया है। अधिकारी के अनुसार, बरामद हथियारों और गोला-बारूद में 30 राउंड वाली तीन मैगजीन, 24 राउंड वाली एक अन्य मैगजीन, अलग-अलग पॉलीथीन में 75 राउंड, तीन ग्रेनेड, एक लाख रुपये की करेंसी (500 रुपये के 200 नोट), खाने-पीने का सामान (पाकिस्तान में बनी चॉकलेट, सूखे चने और बासी रोटियां), पाकिस्तान में बनी दवाइयां और इंजेक्शन (दर्द निवारक), एक सिरिंज, ए4 बैटरी के 2 पैक और टेप में लिपटा एक हैंडसेट जिसमें एंटीना और हैंडसेट से लटके दो तार शामिल हैं।

          बता दें कि मंगलवार रात कठुआ की तहसील हीरानगर की गांव सोहले सैडा में आतंकियों ने एक घर में दबिश दी। आतंकियों की फायरिंग में एक व्यक्ति घायल हो गया। उधर, लोगों ने सुरक्षा बलों को सूचना दी। आतंकियों की पुलिस से हुई मुठभेड़ में एक पाकिस्तानी आतंकी मार गिराया गया।

सीआरपीएफ जवान हुआ बलिदान
अन्य आतंकियों की तलाश में ऑपरेशन शुरू हुआ। मौके पर पुलिस, सेना, एसओजी, सीआरपीएफ की टीमें पहुंच गई। इलाके की घेराबंदी कर ली गई। अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। अलसुबह करीब तीन बजे यहां आतंकियों के साथ मुठभेड़ में एक सीआरपीएफ का जवान घायल हो गया, जिसे तुरंत इलाज के लिए हीरानगर उपजिला अस्पताल ले जाया गया, लेकिन जवान कबीर दास को बचाया नहीं जा सका।

आतंकियों ने एसएसपी-डीआईजी की गाड़ी पर बरसाईं गोलियां
रात में मौके पर पहुंचे डीआईजी और एसएसपी की गाड़ी पर भी आतंकियों ने गोलियां बरसाईं। हालांकि इस हमले में दोनों अधिकारी किसी तरह जान बचाने में सफल रहे।

सुबह फिर ऑपरेशन में तेजी लाई गई तेजी
सुबह होते ही एक बार फिर यहां ऑपरेशन में तेजी लाई गई। आतंकियों की तलाश के लिए ड्रोन की भी मदद ली गई। एडीजीपी जम्मू मौके पर पहुंचे। वह ऑपरेशन पर करीब से निगरानी बनाए हुए हैं।

जीएमसी कठुआ में घायल का उपचार जानने पहुंचे डॉ. जितेंद्र सिंह
केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह कठुआ जीएमसी में आतंकी हमले में घायल हुए व्यक्ति का हाल जानने के लिए पहुंचे। इस दौरान उन्होंने घायल को मिल रहे उपचार के बारे में जानकारी ली। वहीं, मीडिया से बातचीत करते हुए डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा, ’जिस तरह की घटना हुई है, उससे लोगों में चिंता और गुस्सा जरूर पैदा हुआ है… जैसा कि प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि ’आतंकवाद के प्रति जीरो टॉलरेंस’ है, उसी सिद्धांत का पालन करते हुए आगे की कार्रवाई तय की जाएगी… आज हमें कुछ सुरक्षा विशेषज्ञों से भी सुझाव मिले हैं। उनका पालन करके शायद यह सुनिश्चित किया जा सके कि ऐसी घटना दोबारा न हो… प्रशासन और अर्धसैनिक बलों के बीच संयुक्त अभियान बहुत अच्छी तरह से आगे बढ़ रहा है।’
          आतंकी हमले के चश्मदीद अश्वनी कुमार शर्मा ने बताया कि गांव के कुछ युवाओं ने आतंकियों को देखा था। अश्वनी भी गांव की गली में थे और तभी सामने से आए दो हथियारबंद लोगों ने हिंदी में बाद करते हुए पानी पिलाने को कहा। अश्वनी ने बताया कि वो उनके हाथ में एके 47 देखकर समझ गया कि यह आतंकी है और कुछ दूरी पर चौक में खेल रहे बच्चों के बीच चिल्लाया कि आतंकी आ गए हैं। इसके बाद सब अपने घरों को ओर दौड़े। तभी आतंकियों ने गांव की गली से ही गोली चलानी शुरू की जिसमें ओमकार घायल हुए। तब तक सभी लोग अपने घरों के भीतर जा छिपे थे। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई और कुछ देर बाद की एनकाउंटर शुरू हो गया। यहां

जम्मू संभाग में तीन दिन में तीन आतंकी वारदात
जम्मू में तीन दिनों में यह तीसरी आतंकी हमला है, पहले रियासी में तीर्थयात्रियों को ले जा रही एक बस पर आतंकवादियों ने गोलीबारी की थी जिसमें नौ यात्री मारे गए थे। फिर कठुआ में आतंकवादियों ने गोलीबारी की, जिसमें एक नागरिक घायल हो गया। इसके बाद डोडा में पुलिस नाके पर हमला किया है। जम्मू संभाग में आतंकी वारदातों में इजाफा हुआ है।

डोडा में आतंकी हमले में सेना के पांच जवान और एक एसपीओ घायल
जम्मू संभाग के जिला के छत्रगलां टॉप में मंगलवार की देर रात आतंकियों ने सेना तथा पुलिस के संयुक्त नाके को निशाना बनाया। आतंकियों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाईं। सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई से मुठभेड़ शुरू हो गई। इस हमले में सेना के पांच जवान और एक एसपीओ (स्पेशल पुलिस ऑफिसर) घायल हो गया। घायलों को उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया है। छत्रगलां टॉप का यह इलाका जिला कठुआ और जिला डोडा की तहसील भद्रवाह की सीमा पर स्थित है। हमले को अंजाम देने के बाद आतंकी मौके से भाग निकलने में कामयाब हो गए। आतंकियों की तलाश के लिए गहन तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

आतंकियों का जल्द होगा सफाया
डीआईजी (डोडा-किश्तवाड़-रामबन) श्रीधर पाटिल ने कहा कि आतंकियों के एक ग्रुप की मूवमेंट को लेकर इनपुट मिल रही थी। इसके चलते ऊंचाई वाले पहाड़ी इलाकों में सेना और पुलिस ने टेंपरेरी पोस्ट तैयार की थी। जिला कठुआ को जोड़ने वाला मुख्य रोड है। वहां नाका लगता है साथ ही सेना, पुलिस एसओजी की संयुक्त पोस्ट है।
        रात को जांच के दौरान संदिग्ध मूवमेंट पर संतरी ने चैलेंज किया। इसके बाद गोलीबारी शुरू हुई। हमारे जवानों ने एक से डेढ़ घंटे तक मोर्चा संभाले रखा। डटकर मुकाबला किया। इस दौरान कुछ सेना के जवान और पुलिस का जवान भी जख्मी है। पूरे इलाके को सर्च किया जा रहा है। जल्द ही जो आतंकी गुट यहां घूम रहा है, उसे ढेर किया जाएगा। यहां जंगल का इलाका है। इसमें समय लगेगा। स्ट्रेटजी के साथ चल जा रहा है। ऐसी संभावना है कि यहां तीन से चार आतंकियों का गुट हो सकता है।

About Post Author

आपने शायद इसे नहीं पढ़ा

Subscribe to get news in your inbox